विश्व के प्रमुख धर्म -10 धार्मिक सम्प्रदाय (Worlds Religion)

आपको आज हम विश्व के प्रमुख धर्म -धार्मिक  सम्प्रदाय अथवा समुदाय Worlds Religion के बारे में जानकारी  देने की कोशिस कर रहे हैं .उम्मीद है आपको जरूर पसंद आएगा .

विश्व के प्रमुख धर्म एवं महत्वपूर्ण विशेषताएं-Worlds Religion

 

हमारे कुछ प्रश्न होते है जैसे –

  • विश्व में सबसे ज्यादा कोनसा धर्म है ?
  • भारत में कितने धर्म हैं ?
  • प्रमुख धर्म व उनके संस्थापक कौन हैं  ?
  • धर्मो की मुख्य शिक्षाएं क्या है ?
  • प्रमुख धर्म ग्रंथो के नाम क्या है  व पवित्र स्थान कहाँ पर है ?
  • हिन्दू धर्म के कितने देश हैं ?
  • सबसे बड़ी जनसँख्या वाला धर्म कौन सा है ?
  • विश्व के प्रमुख धर्म एवं महत्वपूर्ण विशेषताएं

    विश्व के प्रमुख धर्म कौन-कौन से हैं

इन्ही सभी जानकारियों को हम कम से कम शब्दों में साझा करने का प्रयास है .

1. बौद्ध धर्म (Boudh Dharm)

संस्थापक -गौतम बुद्ध (सिद्धार्थ) (563-483 ई० पू.), जन्म स्थान लुम्बिनी (नेपाल)।
स्थापना -525 ई० पू.।
अनुयायी-चीन, तिब्बत, कोरिया, मंगोलिया, नेपाल, भूटान, थाईलैंड, जापान, लाओस, म्यांमार (बर्मा), श्रीलंका, कंबोडिया, ताईवान, इंडोनेशिया, तथा वियतनाम।
पवित्र ग्रंथ-त्रिपिटक (बुद्ध की शिक्षाओं का संग्रह) इसे ‘सूत्र’ भी कहा जाता है ।
पवित्र स्थान-लुम्बिनी (नेपाल) जहाँ बुद्ध का जन्म हुआ था, बोधगया (बिहार) जहाँ उन्हें ज्ञान (बुद्धत्व) प्राप्त हुआ था तथा कुशीनगर (उत्तर प्रदेश) जहाँ उन्हें निर्वाण प्राप्त हुआ था।
पूजा स्थल– विहार (मंदिर) तथा मोनेस्ट्री (जहाँ बौद्ध भिक्षु रहते हैं)
संप्रदाय महायान तथा हीनयान।

2. कन्फ्यूशियनवाद

संस्थापक-कुंग-फू-त्सू, जिन्हें कन्फ्यूशियस के नाम से भी जाना जाता है । इनका जन्म (551-479 ई० पू.) चीन के ‘लू’ राज्य में हुआ।
स्थापना -500 ई० पू.।
अनुयायी -चीन, ताईवान, दक्षिण कोरिया, नौरू तथा वियतनाम।
पवित्र ग्रंथ -‘लून यू’, ‘एनालैक्ट्स ‘
पवित्र स्थान – पीकिंग (बीजिंग) चीन में।
पूजा स्थल-कोई चर्च या मंदिर नहीं।

यह china का एक प्रमुख धर्म है

3. ईसाई

संस्थापक-जीसस क्राइस्ट (5 ई. पू.-30 ई.),नजरेथ के ‘जुडिया’ स्थान पर जिसे नजरेथ का ‘जीसस’ भी कहा जाता है।
स्थापना -2000 वर्ष पूर्व
अनुयायी-पूरे विश्व में फैले हैं।
पवित्र ग्रंथ – बाइबल. जिसमें ओल्ड टेस्टामेंट (ई० पू.) तथा न्यू टेस्टामेंट (ईसा के समय में तथा उसके बाद) शामिल हैं।
पवित्र स्थान -जेरुसलम, जहाँ ईसा रहे तथा उन्होंने शिक्षा दी।
पूजा स्थल -चर्च
महत्वपूर्ण सम्प्रदाय -कैथोलिक तथा प्रोटेस्टैंट्स।

4. हिंदू (Hindus)

संस्थापक-दैवी मूल से
स्थापना– 1500 ई० पू.।
अनुयायी-भारत तथा नेपाल में भारी संख्या में तथा भूटान, फिजी, गुयाना, इंडोनेशिया, मॉरीशस,श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका, त्रिनिडाड, टोबागो एवं बाली में भी इसके अनुयायी हैं।
पवित्र ग्रंथ -वेद, उपनिषद, भगवद्गीता तथा महाभारत, रामायण महाकाव्य
पूजा स्थल-मंदिर।

5. इस्लाम

संस्थापक-पैगम्बर मोहम्मद (570-632 ई०) जन्म स्थान-मक्का (सउदी अरब)
स्थापना- 622 ई० में
अनुयायी-अफ्रीका का पश्चिमी तटवर्ती क्षेत्र जिसमें तंजानिया, रूस तथा चीन का दक्षिणीभाग भारत ,पाकिस्तान, बंगलादेश, मलेशिया तथा इंडोनेशिया शामिल हैं। इसके अलावा उत्तरी अफ्रीका के कुछ भाग।
पवित्र ग्रंथ- कुरान (ईश्वर के शब्द) हदीस (पैगम्बर के उपदेशों का संग्रह)।
पवित्र स्थान-मक्काह (मक्का), सउदी अरब
पूजा स्थल -मस्जिद।
महत्वपूर्ण सम्प्रदाय-सुन्नी एवं शिया।

6. जुडैइज़्म (हिब्रुओं का धर्म)

संस्थापक-मौसेस, जन्म स्थान मिस्र
स्थापना-1300 ई० पू
अनुयायी-पूरे विश्व में, परंतु इज़राइल तथा अमेरिका में बड़ी संख्या में अनुयायी हैं।
पवित्र ग्रंथ-हल्स, जो विशेष रूप से बाइबल की 5 पुस्तकों में पाए जाते हैं। ‘तोराह’ पर व्याख्या जिसे ‘ताला
तथा ‘मिद्राश’ के नाम से भी जाना जाता है।
पवित्र स्थान-जेरुसलम
पूजा स्थल-सीनैगॉग

7. शिंतोइज़्म

संस्थापक -जापानी संस्कृति के साथ प्रारंभ होकर परम्परा से विकसित हुआ।
स्थापना -प्राचीन
पवित्र ग्रंथ-कोई निश्चित आलेख नहीं है।
पवित्र स्थान -आइस का केंद्रीय पूजा-स्थल (मध्य जापान) तथा टोक्यो में यासुकुनी पूजा-स्थल।
पूजा स्थल– आइस का केंद्रीय पूजा-स्थल (मध्य जापान) तथा टोक्यो में यासुकुनी पूजा-स्थल।

8. सिख

संस्थापक-गुरु नानक (1469-1539)।
स्थापना -1500 ई०।
अनुयायी -भारत।
पवित्र ग्रंथ– गुरु ग्रंथ साहिब।
पवित्र स्थान-अमृतसर का स्वर्ण मंदिर।
पूजा स्थल– गुरुद्वारा।

9. ताओवाद

संस्थापक-लाओत्से, एक चीनी दार्शनिक।
स्थापना-छठी शताब्दी ई० पू.।
अनुयायी -चीन, ताईवान, नौरू, ब्रुनेई, सिंगापुर तथा वियतनाम।
पवित्र ग्रंथ-ताओ-ते-चिंग

10. ज़ोरोआस्ट्रिआनिज़्म (पारसी धर्म)

संस्थापक -ज़ोरोस्टर, जन्म ‘मेदिया’ (आधुनिक ईरान) में लगभग 660 ई० पू.।
स्थापना -लगभग 500 ई० पू.।
अनुयायी-ईरान तथा उत्तर-पश्चिमी भारत। ज़ोरोआस्ट्रियन्स जो आठवीं शताब्दी में भारत आ गये थे, वे वर्तमान भारतीय पारसी समुदाय के पूर्वज हैं।
पवित्र ग्रंथ-जैड अवेस्ता
पूजा स्थल– अग्नि मंदिर (फायर टेंपल)

 

विश्व के प्रमुख  धर्म-आंकड़ों में

 

धर्म                               विश्व जनसंख्या का प्रतिशत (2002 के जनसंख्या का प्रतिशत)

ईसाई –                          33.1
मुसलमान-                     20.3
हिंदू-                               13.3
सिख-                             0.4
जैन-                                0.1
बौद्ध-                               5.9
यहूदी (ज्यूइस्म)–             0.2

उपयुक्त आकड़ो से पता चलता है की इसाई धर्म के लोगो की आबादी  दुनिया में सबसे अधिक है

मुसलमान दुसरे नम्बर का सबसे ज्यादा जनसँख्या वाला धार्मिक समुदाय है .

भारत में जैन धर्म भी आती जो बहुत कम जनसँख्या  है

धर्म विश्व जनसंख्या का प्रतिशत

अधार्मिक-11.9
नास्तिक-2.3
चीनी लोक धर्म -6.3
नये धर्मवादी -1.7
शिंतोवादी -0.1
बहाई -0.1
कन्फ्यूशियनवादी -0.1
अन्य धर्मावलम्बी -14.1

उपयुक्त आकड़ो में लगभग 12प्रतिशत नास्तिकों की खासी आबादी है यानि ये ईश्वर को नहीं मानने वाले लोग हैं .

तो यह विश्व के प्रमुख धर्म सम्बंधित  जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो जरूर शेयर कीजिये

Please Contact for Advertise