WHAT IS HPLC

High Performance Liquid Chromatography :HPLC

HPLC -इसका Fullform- High Performance Liquid Chromatography  होता है आइये संक्षिप्त में कुछ जानकारी आपसे साझा करते है

उम्मीद है आपको पसंद आयेगी

HPlC-High Performance Liquid Chromatotography

 

What is HPlC Column or Chromatography

यह एक प्रकार की क्रोमेटोग्राफिक पृथक्करण विधि (Chromatographic separation method) जिसका उपयोग आयन्स-विनिमय (Ion –exchange),अधिशोषण(Adsorption),पार्टीशन (Partition),सीविंग(Sieving) या बन्धुता क्रोमेटोग्राफी (Afinity chromatography) आदि में किया जाता है.

 

HPLC का पूर्ण रूप, हाइ परफॉर्मेन्स लिक्विड क्रोमेटोग्राफी (High performance (or Pressure) Liquid chromatography) है .

High Performance Liquid Chromatography

विधि (Melhod)

प्रयोगशाला में HPLC की प्रक्रिया (Process) स्टील (Steel) के स्तम्भों (Columns) अथवा पतलेस्तर के प्लेट्स (Thin layer plates) में की जाती है इसमें विभिन्न स्टेशनरी (Stationary) तथा मोबाइल फेजेज (Mobile phases) का उपयोग, प्रयोग की जाने वाली विधि जैसे पार्टीशन (Partition), अघिशोषण (Absorption), आयन एक्सचेंज (Ion exchange) अथवा अपवर्जन सिद्धान्त (Exclusion principle) पर आधारित होता है.

इसमें मोबाइल फेज (Mobile phase) सामान्यतः एक उचित विलायक (Suitable solvent) होता है, जो कि एक ही प्रकार का अथवा निश्चित अनुपात (Fixed proportions) में मिश्रित किए गए विलायकों (Solvents) का मिश्रण (Mixture) होता है. सभी HPLC विलायक (Solvent) विशेष प्रकार से परिष्कृत (Purified) होते हैं, क्योंकि इनमें अशुद्धियों (Impurities) की अल्प मात्रा होने पर भी ये सैम्पल (Sample) के पृथक्करण (Isolation) एवं नतीजों (Results) को प्रभावित कर सकते हैं.

 

HPLC को एक उच्च (Highly) सोफिस्टीकेटेड (Sophisticated) पम्पिंग सिस्टम (Pumping system) में व्यवस्थित किया जाता है, जोकि विलायकों (Solvents) को एक सँकरे स्तम्भ (Narrow column) में उच्च (High) तथा स्थिर (Constant) दर (Rate) पर प्रवाहित (Flow) करता है.

Demo Picture

high performance liquid chromatography

सँकरे स्तम्भ के कारण विलायक (Solvents) की प्रवाह गति पर प्रतिरोधक वल पड़ता है अतःपम्पिंग सिस्टम(Pumping system) की क्षमता अत्यन्त क्रान्तिक (Critical) होती है.

 

स्थिर दाब (Constant pressure) पर पम्प (Pump)द्वारा, कॉलम्स (Columns) में एक पल्सलेस (Pulseless) प्रवाह (Flow) बनता है. ये पम्प (Pump) अत्यधिक दाब (High pressure) पर प्रवाहित गैसो (Gases) द्वारा आपरेट(Operate) किए जाते हैं.

 

इस विधि में स्तम्भों (Columns) में मिश्रण (Mixture),गुरुत्वाकर्षण तल (Gravity force) के कारण प्रवाहित नहीं होते, किन्तु इन्हें स्तम्भों के भीतर 5000 से 10000 पाउण्डस प्रति वर्ग इंच (5000-10000 (Pounds/Square inch)हाइड्रोस्टेटिक दाब (Hydrostatic pressure ) से गुजारा जाता है.

 

स्तम्भों से गुजरने के पश्चात् यदि सैम्पल (Sample) के (Components) उचित प्रकार से वियोजित (Resolved) नहीं होते तब उनकी रिक्रोमेटोग्राफी (Rechromatographed) HPLC के द्वारा की जाती है.इस विधि में सैम्पल (Smaple) को एक माइक्रोसीरिंज (Microsyringe) में लेकर उपयोग किया जाता है तथा सैम्पल का सही अनुप्रयोग (Correct application) सही परिणाम हेतु महत्वपूर्ण होता है.

HPLC का महत्व (Importance of HPLC)

1. HPLC विधि अधिक प्रभावी तथा अधिक शीघ्रता से होने वाली विधि है. इसका महत्वपूर्ण उपयोग, दवाओं की सूक्ष्म मात्रा (Minute amounts of drugs);मेटावोलाइट्स (Metabolites) तथा अन्य यौगिकों(Compounds) की पहचान (Identification) में की जाती है.

 

2. इसके द्वारा प्रोटीन्स (Proteins) के मिश्रण (Mixture)का पृथक्करण (Isolation) शीघ्रता से तथा शुद्धतापूर्वक (Accurately) किया जा सकता है.

 

3. HPLC विधि का उपयोग एनालिटिकल (Analitical) या प्रिपरेटिव स्केल (Preparative Scale) पर मात्रात्मक (Quantitatively) या गुणात्मक (Qualita-tively) परीक्षण हेतु किया जा सकता है.

 

QUIZ-High Performance Liquid Chromatography

1. निम्नलिखित में से कौन एक क्रोमेटोग्राफिक (Chromatographic) पृथक्करण विधि है ?

[A] आर ए पी एल (RAPL)

[B] एच पी एल सी (HPLC)

[C]एम आर आई (MRI)

[D] सी टी स्कैन (CT-Scan)

[B]  एच पी एल सी (HPLC) ✔

2. हाइ परफॉरमेन्स (प्रेशर) लिक्विड क्रोमेटोग्राफी का उपयोग निम्नलिखित किसमें किया जाता है ?

(A) पार्टीशन (Partition) में

(B) आयन-विनिमय (Ion-exchange) में

(C) वंधता क्रोमेटोग्राफी (Afinity Chromatography) में

(D) उपर्युक्त सभी

[D]  उपर्युक्त सभी ✔

QUIZ-HPLC

3. एच पी एल सी (HPLC) का पूर्ण रूप है

(A) हाई पावर लिक्विड क्रोमेटोग्राफी (High Power Liquid Chromatography)

(B) हिस्टोकम्पैटिबिलिटी पावर लो साइकिल (Histocompatibility Power Low Cycle)

(C) हाइ परफॉरमेंस लिक्विड क्रोमेटोग्राफी (High Performance Liquid Chromatography)

(D) हेवी प्रेशर लाइट क्रोमेटोग्राफी (Heavy PressureLight Chromatography)

[C]  हाइ परफॉरमेंस लिक्विड क्रोमेटोग्राफी (High Performance Liquid Chromatography)✔

4. प्रयोगशाला में HPLC की प्रक्रिया निम्नलिखित में से किसमें की जाती है ?

(A) स्तम्भों (Columns) में

(B) पतले स्तर के प्लेट्स (Plates) में

(C) उपर्युक्त (A) तथा (B) दोनों में

(D) पारा की नली में

[C] उपर्युक्त (A) तथा (B) दोनों में  ✔

5. HPLC विधि के अन्तर्गत निम्नलिखित किस फेस (Phase) में सामान्यतः एक उचित विलायक होगा, जोकि एक ही प्रकार का अथवा निश्चित अनुपात में मिश्रित किए गए विलायकों का मिश्रण होता है ?

(A) स्टेशनरी फेज (Stationary Phase)

(B) मोबाइल फेज (Mobile Phase)

(C) उपर्युक्त (A) तथा (B) दोनों

(D) लिक्विड फेज (Liquid Phase)

[B] मोबाइल फेज (Mobile Phase) ✔

6. निम्नलिखित में से कौन HPLC का महत्व बताता है ?

(A) इसका उपयोग महत्वपूर्ण दवाओं की सूक्ष्म मात्रा मेटाबोलाइट्स तथा अन्य यौगिक की पहचान में किया जाता है.

(B) इस विधि का उपयोग एनालिटिकल या प्रिपरेटिव स्केल पर मात्रात्मक या गुणात्मक परीक्षण केलिए किया जाता है.

(C) इसके द्वारा प्रोटीन के मिश्रण का पृथक्करण शुद्धतापूर्वक शीघ्रता से किया जा सकता है.
(D) उपर्युक्त सभी

[D] उपर्युक्त सभी ✔

3 thoughts on “High Performance Liquid Chromatography :HPLC”

Comments are closed.

Please Contact for Advertise