छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं शिल्पकार – लोक वाद्य

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं       शिल्पकार - लोक वाद्य

शिल्प – छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं शिल्पकार – लोक वाद्य

 

मिटटी शिल्प
रायगढ़ ,सरगुजा,राजनांदगांव ,एवं
बस्तर के टेराकोडा -प्रमुख कलाकार सोना
बाई सरगुजा

काष्ठ शिल्प
बस्तर संभाग के सभी जिले काष्ठ शिल्प
के लिये विश्व प्रसिद्ध। सरगुजा में भी काष्ठ
शिल्प बनाये जाते हैं।

बाँस शिल्प
बंसोड़ जाति के लोगो का मुख्य शिल्प है।
कोड़ाकू जाति के लोग भी बाँस शिल्प बनाते हैं।
प्रमुख जिले -बस्तर ,सरगुजा,रायगढ़,एवं
कबीर धाम।

धातु कला शिल्प
मलार ,घड़वा एवं झारा जाति का शिल्प है।
इसे बेलमेटल आर्ट कहते है। लोहार जाती
का शिल्प। बस्तर व सरगुजा के कलाकार
प्रसिद्ध हैं।

लौह शिल्प
शिल्पकार गोविंदराम झारा (रायगढ़ )पत्ते
से विभिन्न सामग्री निर्माण। पत्थरों की मूर्तियां
बनाने की पारम्परिक कला।

पत्ता कला
बंजारा जाति की मुख्य कला ,बस्तर संभाग।

प्रस्तर शिल्प
बस्तर व सरगुजा संभाग।

कंघी कला

घड़वा जाति का शिल्प ,पीतल ,काँसा ,
एवं मोम का प्रयोग।

तीर धनुष कला
पीतल एवं मोम से बनाया जाता है।

घड़वा कला
-रजवार जाति का शिल्प ,घर की
दीवारों पर कलाकृतियाँ सरगुजा में।




ढोकरा शिल्प
-सोना बाई रजवार।

भित्ति शिल्प –
बस्तर (जगदलपुर).

तुम्बा शिल्प –
लौकी से बनाया जाता है।

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं शिल्पकार

शिल्प – शिल्पकार – लोक वाद्य

छत्तीसगढ़ के लोक वाद्य

 

फूंक वाद्य
महुवेर ,मोहरी ,भेड़ भाजा ,तुमड़ा ,
तुरही ,नरसिंघा ,नगदावन ,बांसुरी ,
मुरली ,बीन

तार वाद्य
ढोक ,रवनी ,किन्दरा ,तमुर्रा ,टोहिला ,
गुबगुबी या घुड़का ,भरथरी ,सारंगी ,
बीणा ,बेंजो ,गिटार ,रुंजो ,चिकारा

ताल वाद्य
मुड़ी ,लोहाटी खूंटी ,सिंघाटी ,डफला ,
ठिरकी ,डूगी ,डम्फा ,ढोल ,मोरबाजा ,
ठड़प ,तेलाई बाजा ,डंका गागर बाजा ,
मृदंग ,डमरू ,मांदर ,नगाड़ा ,ढोलक ,
डफली ,तबला ,रामढोलक ,हुड़का ,
खंजड़ी ,तरसा ,नाल ,कांगो ,पंचमुखी
वाद्य

झंकार वाद्य
शिकारी ,केंरचों ,पंडुरी ,चौरासी ,डडखर,
घुँघरू ,झाँझ ,मँजीरा ,किनी ,झाल ,करताल ,
ज़मुर्रा ,झुंका ,पैरी

अन्य वाद्य –
दपुड़ा ,निसान ,फड़ा,ठर्की ,घुमरा ,रिमजी ,
खलारन ,नजीरा ,सरांची ,चटकोला ,चिकारा ,
निसार इत्यादि

 

छत्तीसगढ़ के लोक वाद्य

छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं शिल्पकार –
छत्तीसगढ़ के लोक वाद्य
यह पोस्ट आपको
कैसा लगा कृपया निचे दिए गए कमेंट बॉक्स
में जरूर दीजियेगा

 

facebok

more

7 thoughts on “छत्तीसगढ़ के प्रमुख शिल्प एवं शिल्पकार – लोक वाद्य”

  1. I was suggested this website by my cousin. I am no longer positive whether this publish is written by means of him as
    nobody else know such exact approximately my difficulty.
    You’re wonderful! Thank you!

  2. After going over a number of the blog posts on your website, I truly appreciate your technique of
    writing a blog. I saved it to my bookmark webpage list and will be checking back soon. Please check
    out my web site too and let me know how you feel.

  3. Long time reader, first time commenter — so, thought I’d drop a comment..

    — and at the same time ask for a favor.

    Your wordpress site is very simplistic – hope you
    don’t mind me asking what theme you’re using? (and don’t mind if I steal it?
    :P)

    I just launched my small businesses site –also built in wordpress like yours– but the theme slows (!) the site down quite
    a bit.

    In case you have a minute, you can find it by
    searching for “royal cbd” on Google (would appreciate any feedback)

    Keep up the good work– and take care of yourself during the coronavirus
    scare!

    ~Justin

  4. Long time supporter, and thought I’d drop a comment.

    Your wordpress site is very sleek – hope you don’t mind me asking what theme you’re using?
    (and don’t mind if I steal it? :P)

    I just launched my site –also built in wordpress like yours– but the theme slows (!) the
    site down quite a bit.

    In case you have a minute, you can find
    it by searching for “royal cbd” on Google (would appreciate any feedback) – it’s still in the works.

    Keep up the good work– and hope you all take care of yourself during the coronavirus
    scare!

  5. What’s Going down i am new to this, I stumbled upon this I have discovered It positively useful and it has aided me out loads. I hope to contribute & assist different users like its helped me. Great job.|

Comments are closed.

Please Contact for Advertise