BPO full form in hindi-जानिए बीपीओ का फुल फॉर्म हिंदी में

BPO full form in hindi-जानिए बीपीओ का फुल फॉर्म हिंदी में

BPO full form ,bpo full form in hindi

bpo full form and meaning ,bpo full form in english .bpo full form interview questions ,bpo full form in

tamil ,bpo full form in post office bpo full form ,full form of bpo ,bpo full form in hindi ,what is the

full form of bpo , bpo full form interview questions

what is the full form of bpo

bpo full form-बीपीओ का फुल फॉर्म हिंदी में

बीपीओ का फुल फॉर्म हिंदी में-BPO full form in hindi

bpo in hindi

 

Bpo आजकल व्यवसाय जगत में काफी प्रचलित नाम है  आइये जानते है Bpo क्या होता है 

इसका काम क्या है हमारे व्यवसायिक या रोज मर्रा की जीवन इसका क्या महत्व है ,इसका

फुल फॉर्म क्या होता है। तो चलिए समझते है Bpo क्या होता है ?

आउटसोर्स को समझने के यह लेख को पढ़नाहोगा 

हमारे मन में सवाल है 

what is  bpo full form

Bpo क्या  होता है ?

Bpo इसको हम विस्तार करें  तो –

B  से Business- इसका सामान्य अर्थ आप सभी जानते है किसी भी प्रकार का व्यापार

या व्यवसाय  के लिए कार्य करना।

P का    process- इसका अर्थ होता है कोई भी कार्य की प्रक्रिया का होना

O का अर्थ है Outsourcing  या  कोई कार्य को करने के लिए दूसरे कंपनी या किसी अन्य 

संस्था से  अपनी  कम्पनी  में कर्मचारी को लाना। 

Bpo का फुल फॉर्म होता है  Business process outsourcing या हिंदी में समझे तो 

बाहर से worker या कर्मचारी को व्यवसायिक हितो के लिए काम पर दूसरे provider 

से agreement के तहत काम लेना या करवाना

what is bpo बीपीओ क्या है 

 

इसका मतलब है यदि मेरी कोई कम्पनी है और मुझे  किसी काम को करने के लिए

कर्मचारी की आवश्कता है तो तो मैं  ऐसी किसी कंपनी से Agreement करूँगा  जो

कर्मचारी उपलब्ध कराती है दुनिया कई नामी  कंपनी आजकल केवल कर्मचारी उपलब्ध

कराती है ये होती है bpo कंपनी 

बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (बीपीओ) आउटसोर्सिंग का एक माध्यम  है जिसमें किसी

विशेष व्यवसाय  की प्रक्रिया के लिए संचालन और जिम्मेदारियों का अनुबंध तीसरे पक्ष के

सेवा प्रदाता ( Service Provider ) के लिए होता   है।

आउटसोर्सिंग पार्टनर

एक बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग पार्टनर या सहयोगी  के रूप में, कार्य (task ) ग्राहक

अनुभव (Costumer  Experience ) और हमारे ग्राहकों के लिए कार्यालय संचालन

(management ) प्रदान करता है।

Bpo कम्पनिया  अपने कंपनी में हर प्रकार के अलग अलग क्षमता वाले कर्मचारी की भर्ती

,तनख्वाह ,तथा संचालन  करती है और इसके एवज में संबंधित सहयोगी कंपनी से निश्चित

धनराशि का Agreement या समझौता होता है  और वह मुनाफा कमाता है। 

व्यावसायिक प्रक्रिया आउटसोर्सिंग (बीपीओ) गैर-प्राथमिक व्यावसायिक गतिविधियों

(Business  Activity ) और तीसरे पक्ष  (Third  party )  के प्रदाता के कार्यों का अनुबंध

/समझौता  है। बीपीओ सेवाओं में पेरोल ( धनराशि के एवज में कार्य ) , मानव संसाधन (HR ),

लेखा  (Audit )और ग्राहक / कॉल सेंटर (Customer  call center ) संबंध शामिल हैं।

bpo  को सूचना प्रौद्योगिकी सक्षम सेवाओं (information  technology enable service 

/ ITES ) के रूप में भी जाना जाता है।


आउटसोर्स का क्या मतलब है 

आउटसोर्स का सीधा सा अर्थ है स्वयं किसी कर्मचारी को नियुक्ति ,इंटरव्यू ,भत्ता, तमाम आदि परेशानी से बचने के लिए ऐसी की संस्था से समझौता कर लेना  जो यह पहले से कर चुकी होती है जब कोई कर्मचारी की मांग करता है तो उसे उसके जरुरत के आधार पर कर्मचारी उपलब्ध कराना। 

उदाहरण के तौर पर सरकार कर्मचारी को किसी फर्म या संस्था से ठेके में लेती हैं 

bpo के  मुख्य categaries  

 जैसे –फ्रंट-ऑफिस ग्राहक सेवाएं (जैसे कि तकनीकी सहायता) 

       बैक-ऑफिस व्यावसायिक कार्य (जैसे बिलिंग) हैं।

Indian Scientists : Top List and Biography

नौकरी के अवसर-बीपीओ फुल फॉर्म

front office costumer service

फ्रंट-ऑफिस ग्राहक सेवाएं – इसके अंतर्गत किसी ऑफिस में bpo  कमर्चारी द्वारा   कार्य को सम्पादित करना यह प्रत्यक्ष रूप से ग्राहक से सीधे संवाद कर उनकी आवश्कता को निपटारा करना ,कोई सेवा कार्य हो  तो उसे पूरा करना जैसे -कोई सामान है तो वह प्रत्यक्ष रूप से सभी जानकारी प्रदान कर  उसे संतुष्ट  करना उसे वह सामान को खरीदने के लाभ व हानि को बतलाना  व खरीदने के लिए  प्रोत्साहित करना  इस प्रकार के कार्य जो Direct होता है  Front office costumer  service के अंतर्गत आता है।

उदाहरण – किसी कंपनी का Technician 

मैनेजर ,तकनीकी  जानकार ,एक्सक्यूटिव  इत्यादि

back office work with bpo

दूसरा है  बैक-ऑफिस व्यावसायिक कार्य  – इसके अंतर्गत ऐसी सेवाएं जिसमे प्रत्यक्ष मौजूद रहे बिना किसी कार्य को सम्पादित करना  जैसे मोबाइल कस्टमर केयर द्वारा जानकारी उपलब्ध करना ,ऑनलाइन रिचार्ज करना ,किसी प्रोडक्ट को बुक करना  ऐसे कार्य  back office service  के अंतर्गत आती है

what is kpo 

kpo  आज के दौर में उतना ज्यादा popular  नहीं है इसका अर्थ  नॉलेज प्रोसेस आउटसोर्सिंग 

इसमें bpo की अपेक्षा ज्यादा तकनीकी जानकारी ,योग्यता ,व  प्रबंधन से है यह आम तौर बड़े अनुसन्धान जैसे कामो के लिए बड़े नामचीन को आउटसोर्स  किया जाता है 

what is lpo 

कानूनी आउटसोर्सिंग, जिसे कानूनी प्रक्रिया आउटसोर्सिंग (एलपीओ) /के रूप में भी जाना जाता है, एक कानूनी फर्म या निगम के व्यवहार को संदर्भित करता है जो एक बाहरी लॉ फर्म या कानूनी सहायता सेवा कंपनी (एलपीओ प्रदाता) से कानूनी सहायता सेवाएं प्राप्त करता है।

bpo कर्मचारी के लिए  योग्यता

जिस किसी फिल्ड में कार्य  करना हो उसमे उसे महारत हासिल हो

उसके पास कार्य को करने का डिग्री या डिप्लोमा हो

कंपनी के आवश्कता अनुसार योग्यता हो

यदि वह कॉल सेंटर के लिए हो तो भाषायी ज्ञान पर्याप्त हो

ग्राहक से  संवाद  के प्रक्रिया को समझता हो

ग्राहक को संतुष्ट करने का अभ्यास हो

bpo  noukari करें

  ऑनलाइन  online work provider website

indeed

justdial

noukari.com

आदि वेबसाइट पर जाकर काम करने वाले व करवाने वाले अपनी आवश्कता  अनुसार  संपर्क कर सकते है

आजकल बहुत सारे  ऐसे plate फॉर्म है जिनसे ऑनलाइन विदेशो में कई लोग काम करते है  खासकर computer से  संबंध  वाले

freelancer.com  ऐसे एक कंपनी है जो   अनेक skill के कर्मचारी व कंपनी के बीच काम करती है

 

bpo के लाभ  हैं 

व्यावसायिक प्रक्रिया की गति और दक्षता (skill ) को बढ़ाया जाता है।

प्रतिस्पर्धी लाभ( Competition profit ) को बढ़ाने और मूल्य श्रृंखला के जुड़ाव को बढ़ाने के लिए कर्मचारी मुख्य व्यवसाय रणनीतियों  ( business  strategy )में अधिक समय लगा सकते हैं।

पूंजीगत संसाधन (capital source ) और परिसंपत्ति व्यय की आवश्यकता नहीं होने पर संगठनात्मक वृद्धि होती है, जो समस्याग्रस्त निवेश रिटर्न को बढ़ाती है।

 

बीपीओ जोखिमों (Risk ) से भरा  हैं:




डेटा गोपनीयता भंग करने का जोखिम 

कम चलने वाली लागत  का जोखिम 

सेवा प्रदाताओं पर निर्भरता  होना 

आउटसोर्सिंग एक समझौता Agreement  है जिसमें एक कंपनी किसी अन्य कंपनी को एक नियोजित या मौजूदा गतिविधि के लिए जिम्मेदार मानती है जो आंतरिक रूप से हो सकती है या होती है 

कभी-कभी कर्मचारियों (worker )और परिसंपत्तियों (संसाधन ) को एक फर्म से दूसरे में स्थानांतरित करना शामिल है।

bpo का इतिहास -BPO full form

bpo की अवधारणा  सबसे पहले Ross Perot लेकर आये थे EDS अर्थात Electronic data system नामक संस्था की स्थापना 1962 में की थी  इनका मानना था की आपको भले कोई तकनिकी जानकारी नहीं हो परन्तु हम ऐसे संसाधन उपलब्ध कराएँगे बदले में आपको हमें उसका फीस देना होगा। 

आउटसोर्सिंग शब्द की उत्पत्ति पुनः बेचना या Resell  से 1981 के लगभग आया।  अर्थशास्त्रियों के कथन के अनुसार ये concept निकलकर आया की “द्वितीय विश्व युद्ध के समय से ही इसकी उपस्थिति महसूस की गई.

अक्सर एक business  process में  यह agrement या अनुबंध शामिल होता है (जैसे, पेरोल प्रोसेसिंग, क्लेम प्रोसेसिंग का दावा), संचालन, और / या गैर- मुख्य कार्य, जैसे विनिर्माण (reconstruction ), सुविधा प्रबंधन service  management , कॉल सेंटर / कॉल सेंटर समर्थन )।



आउटसोर्सिंग-BPO full form in hindi

Private  business  को सार्वजनिक सेवाओं का नियंत्रण सौंपने की रिवाज , भले ही अल्पकालिक  या सीमित आधार पर हो, 

 पर “आउटसोर्सिंग” के रूप में  इसकी उपयोगिता को निश्चित तौर पर  वर्णित या परिभाषित  किया जा सकता है।

आउटसोर्सिंग में विदेशी और घरेलू दोनों तरह के करार या समझौता  शामिल हैं अपने सुविधानुसार बड़ी व्यवसायिक  प्रतिष्ठान  इसे अपने काम में लेती है 

Best Chemistry Quiz For Student : General Knowledge

ऑफशोरिंग

कभी-कभी इसमें ऑफशोरिंग (किसी दूर देश के लिए व्यावसायिक कार्य को स्थानांतरित करना )  या निकटवर्ती (किसी व्यावसायिक प्रक्रिया को पास के देश में स्थानांतरित करना) शामिल  होता है।

ऑफशोरिंग ( देश के अंदर व्यवसाय  )और आउटसोर्सिंग (देश के बाहर ) व्यवसाय  पारस्परिक रूप से शामिल  नहीं हैं: यह  एक दूसरे के बिना हो सकता है। उन्हें Interview  (ऑफशोर आउटसोर्सिंग), और व्यक्तिगत या संयुक्त रूप से, आंशिक रूप से या पूरी तरह से उलट किया जा सकता है, जिसमें रेज़रिंग, इंशोरिंग और इनसोर्शन जैसे शब्द शामिल हैं।

क्या उद्देस्य थे 

विश्व में एक दूसके के बीच श्रम या मेहनत को कम करना और अन्तर्राष्ट्रीय  वित्तीय बचत को बढ़ावा देना  या कम करना जो ऑफशोरिंग के लिए एक प्रमुख प्रेरणा हो सकती है। पैमाने और विशेषज्ञता की अर्थव्यवस्थाओं से लागत बचत भी आउटसोर्सिंग को प्रेरित कर सकती है।

 इसी  से प्रेरित होकर Seo  सिंडा हॉलमैन के कंप्यूटर विज्ञान निगम और एंडरसन कंसल्टिंग के बीच  $ 4 बिलियन के 10 साल के आउटसोर्सिंग अनुबंध के management  का विवरण आउटसोर्स  द्वारा किया गया था

आउटसोर्सिंग संगठनों (Organization ) को उन सेवाओं और व्यावसायिक कार्यों के लिए भुगतान करने की अनुमति देकर अधिक बजट ,लचीलापन और नियंत्रण प्रदान कर सकता है,

आउटसोर्सिंग” की अवधारणा

1990 के दशक में “दिग्गज प्रबंधन सलाहकार” पीटर ड्रकर द्वारा “मान्यता प्राप्त और विकसित” पहली बार एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त व्यवसाय टैगलाइन बन गया था । यह  नारा मुख्य रूप से एक व्यावहारिक व्यवसाय रणनीति के रूप में आउटसोर्सिंग की वकालत करने के लिए इस्तेमाल किया गया था। ड्रकर ने 1989 में अपने वॉल स्ट्रीट जर्नल के लेख “सेल द मेलरूम ” के शीर्षक में “आउटसोर्सिंग” की अवधारणा को समझाना शुरू किया।

ड्यूपॉन्ट के अनुसार “आविष्कार करने से बचना” प्रक्रिया  को अगर हम इसे घर में करेंगे। “

कुछ प्रश्न -BPO full form in hindi

bpo full form in call center

यह एक ही शब्द है bpo सम्पूर्ण आउटसोर्स से सम्बंधित है जबकि कॉल सेंटर केवल एक सेवा है जो कंपनी ग्राहकों को सुविधा प्रदान करने के लिए एक्सक्यूटिव या प्रबंधक रखती है

bpo full form in banking – इसमें केवल बैंक से संबंधी कार्य होता है

  

what is the full form of bpo kpo lpo

bpo -bussiness process  outsourceing 

kpo -knowledge process  outsourcesing 

bpo full form in hindi बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (बीपीओ) 

what is lpo

कानूनी आउटसोर्सिंग, जिसे कानूनी प्रक्रिया आउटसोर्सिंग (एलपीओ) के रूप में भी जाना जाता है, एक कानूनी फर्म या निगम के व्यवहार को संदर्भित करता है जो एक बाहरी लॉ फर्म या कानूनी सहायता सेवा कंपनी (एलपीओ प्रदाता) से कानूनी सहायता सेवाएं प्राप्त करता है।

यदि यह जानकारी आपको पसंद आयी तो जरूर शेयर करे 

 

 

1 thought on “BPO full form in hindi-जानिए बीपीओ का फुल फॉर्म हिंदी में”

Comments are closed.

Please Contact for Advertise